चेतावनी रा चूंगट्या

Chetavani Ra Chungatya

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

GkExams on 12-05-2019

चेतावनी रा चूंगट्या राजस्थान के इतिहास से सम्बंधित एक प्रसिद्ध ऐतिहासिक कृति है। राजस्थान के प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी ठाकुर केसरीसिंह बारहट ने इसकी रचना की थी। इस कृति की रचना सोरठों में की गई थी।



सन 1903 ई. में अंग्रेज़ वायसराय लॉर्ड कर्ज़न द्वारा दिल्ली में इतिहास प्रसिद्ध दिल्ली दरबार आयोजित किया गया था। इस दरबार में मेवाड़ के महाराणा फ़तेह सिंह को सम्मिलित होने से रोकने के लिए प्रसिद्ध क्रांतिकारी बारहट केसरीसिंह ने उन्हें सम्बोधित कर चेतावनी रा चूंगट्या नामक कुछ उद्बोधक सोरठे लिखे।

चेतावनी रा चूंगट्या के सोरठों को पढ़कर महाराणा फ़तेह सिंह दिल्ली जाकर भी दरबार में शामिल नहीं हुए और उदयपुर लोट आये।

महाराणा के इस अप्रत्याशित आचरण ने अंग्रेज़ हुक्मरानों में एक सनसनी तथा देश भक्त स्वाधीनता सेनानियों में राष्ट्रीयता की एक नई लहर पैदा कर दी थी।



Comments Kishor falwaria on 09-01-2020

Angejo dwara 17 topo ki salami kise di gai

Kishor falwaria on 09-01-2020

Angejo dwara 17 topo ki salami kise di gai

Manan Sharma on 26-11-2019

Who composed "chetavani ra chungatia"? About which ruler it was written?

किशन on 22-11-2019

चेतावनी रा chugtiya का शाब्दिक अर्थ क्या है

Vaishali on 15-10-2019

Chetavani ra chingari kisne likha tha

Vaishali on 15-10-2019

Chetavani ra chingari kisne likha tha


Vaishali on 15-10-2019

Chetavani ra chingari kisne likha tha



Total views 2500
Labels: , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment