पूरक पोषण हेतु शासकीय कार्यक्रम

Poorak Poshnn Hetu Shashkiy Karyakram

Gk Exams at  2018-03-25

GkExams on 14-11-2018



प्रदेश में संचालित 453 बाल विकास परियोजना के अंतर्गत कुल 78929 आंगनवाडी केन्द्र एवं 12070 मिनी आंगनवाडी केन्द्रो में स्वीकृत है । उक्त स्वीकृत आंगनवाडिओं में लगभग 80.00 लाख हितग्राहियों को पूरक पोषण आहार से लाभान्वित किया जा रहा है । आंगनवाडी केन्द्रो में पूरक पोषण आहार की व्यवस्था हेतु व्यय की जाने वाली राशि से 50 प्रतिशत की राशि भारत सरकार महिला बाल विकास विभाग द्वारा उपलब्ध कराई जाती है।


भारत सरकार द्वारा निर्धारित नवीन मापदंड अनुसार राज्य सरकार द्वारा आंगनवाडी केन्द्रो में 06 माह से 06 वर्ष तक के बच्चों एवं गर्भवती/धात्री माताओं,कुपोषित बच्चों को प्रति हितग्राही प्रतिदिन निम्नानुसार पूरक पोषण आहार दिए जाने का प्रावधान किया गया हैं।

हितग्राही1.3.09 से पुनरीक्षित दरउपलब्ध कराई जाने वाली प्रोटीन की मात्राउपलब्ध कराई जाने वाली कैलोरी की मात्रा
बच्चे (06 माह से 06 वर्ष तक)4.00 रु प्रति बच्चा प्रतिदिन12-15 ग्राम500
गंभीर कुपोषित बच्चे (06 माह से 06 वर्ष तक)6.00 रु प्रति बच्चा प्रतिदिन20-25 ग्राम800
गर्भवती माता,धात्री माता एवं किशोरी बालिका5.00 रु प्रति हितग्राही प्रतिदिन18-20 ग्राम600

(1) 06 माह से 03 वर्ष तक के बच्चों/गर्भवती धात्री माताओं एवं किशोरी बालिकाओं :-


वर्तमान में प्रदेश में संचालित आंगनवाडी केन्द्रो में नवीन व्यवस्था के अनुसार 06 माह से 03 वर्ष तक के बच्चों/गर्भवती धात्री माताओं एवं किशोरी बालिकाओं को एम.पी. एग्रो के माध्यम से निम्नानुसार खाध सामग्री अलग-अलग दिवसों मे दी जा रही है।


क्रं.खाधान्न का नामहितग्राहीप्रतिदिन की मात्राप्रोटीन (ग्राम)कैलोरी
1गेहूं सोया बर्फ़ी (प्रिमिक्स)गर्भवती/धात्री माताऎं/किशोरी बालिकाऎं150 ग्राम18.47631.80
2आटा बेसन लड्डू (प्रिमिक्स)गर्भवती/धात्री माताऎं/किशोरी बालिकाऎं150 ग्राम18.14626.93
3हलुआ (प्रिमिक्स)06 माह से 03 वर्ष तक के बच्चे120 ग्राम12.28503.04
4बाल आहार (प्रिमिक्स)06 माह से 03 वर्ष तक के बच्चे120 ग्राम14.61500.11
5खिचडी06 माह से 03 वर्ष तक के बच्चे125 ग्राम20.44500.75
गर्भवती/धात्री माताऎं/किशोरी बालिकाऎं150 ग्राम25.55625.94

(2) 03 वर्ष से 06 वर्ष तक के बच्चे :-


शहरी क्षेत्र की बाल विकास परियोजनाओं मे 03 वर्ष से 06 वर्ष तक के बच्चों कों स्व सहायता समूह, महिला मंडल, मातृ सहयोगिनी समिती के द्वारा लोकल फ़ूड माडल के आधार पर सुबह का नाश्ता एवं दोपहर का भोजन पृथक पृथक मीनू अनुसार पूरक पोषण आहार के रूप में दिये जा रहे हैं।


ग्रामीण क्षेत्र की बाल विकास परियोजनाओं मे 03 वर्ष से 06 वर्ष तक के बच्चों कों सांझा चूल्हा के माध्यम से सुबह का नाश्ता एवं दोपहर का भोजन पृथक पृथक निम्न मीनू अनुसार पूरक पोषण आहार के रूप में दिये जा रहे हैं।


दिनरेसिपीप्रोटीन (ग्राम)कैलोरी
नाश्ताभोजन
सोमवारपौष्टिक खिचडीसब्जी रोटी13.48507.75
मंगलवारथुली (नमकीन)खीर पुडी12.62659.65
बुधवारमीठी लाप्सीदाल रोटी15.54503.55
गुरुवारमीठी लाप्सीदाल चावल12.83514.05
शुक्रवारथुली (नमकीन)दाल रोटी15.51541.20
शनिवारपौष्टिक खिचडीसब्जी रोटी13.48507.75

(3) 06 माह से 06 वर्ष तक के गंभीर कुपोषित बच्चों हेतु तीसरा मील :-

दिनरेसिपीप्रोटीन (ग्राम)कैलोरी
सोमवारचावल - सोया का लड्डू7.02267.90
मंगलवारमीठी मठरी6.95287.80
बुधवारमूंगफ़ली चना चिक्की6.75261.35
गुरुवारमीठी मठरी6.95287.80
शुक्रवारमूंगफ़ली चना चिक्की6.75261.35
शनिवारचावल सोया का लड्डू7.02267.90

(4) सबला योजना (किशोरी बालिका) :-


भारत सरकार द्वारा निर्धारित मापदण्ड अनुसार राज्य सरकार द्वारा चयनित 15 जिलो(बैतूल, भोपाल, राजगढ, भिण्ड, श्योपुर, इन्दौर, बालाघाट, जबलपुर, रीवा, सीधी, दमोह, सागर, टीकमगढ, झाबुआ एवं नीमच) में सबला योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है। सबला योजना अंतर्गत आंगनवाडी केन्द्रो में 11 से 14 वर्ष तक की शालात्यागी एवं 14 से 18 वर्ष तक की सभी किशोरी बालिकाओं को सप्ताह के 6 दिन टेक होम राशन के रूप में निम्नानुसार पूरक पोषण आहार दिये जाने का प्रावधान किया गया है।


क्रं.खाधान्न का नामहितग्राहीप्रतिदिन की मात्राप्रोटीन (ग्राम)कैलोरी
1गेहूं सोया बर्फ़ी (प्रिमिक्स)किशोरी बालिकाऎं150 ग्राम18.47631.80
2खिचडीकिशोरी बालिकाऎं150 ग्राम25.55625.94

आंगनवाडी केन्द्रो में पूरक पोषण आहार की व्यवस्था हेतु व्यय की जाने वाली राशि से 50 प्रतिशत की राशि भारत सरकार महिला बाल विकास विभाग द्वारा उपलब्ध कराई जाती है ।
भारत सरकार महिला बाल विकास विभाग द्वारा गेहूं आधारित पूरक पोषण आहार अंतर्गत बी.पी.एल. दर पर गेहूं / चावल का आवंटन उपलब्ध कराया जाता है । भारत सरकार से प्राप्त उक्त खाधान्न का पुर्नआवंटन एम.पी.एग्रो. एवं नागरिक आपूर्ति निगम को आंगनवाडी केन्द्रो में पूरक पोषण आहार की व्यवस्था हेतु किया जाता है।



Comments

आप यहाँ पर पूरक gk, पोषण question answers, शासकीय general knowledge, कार्यक्रम सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Total views 302
Labels: , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।
आपका कमेंट बहुत ही छोटा है
Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment