राजपूत स्त्रियों का सामूहिक आत्मदाह क्या है

Rajput Striyon Ka Samuhik Aatmadah Kya Hai

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

GkExams on 12-05-2019

शाही राजपूत घरानों की औरतें दुश्मनों से युद्ध में हारने की ख़बर पर सामूहिक आतमदाह कर लेती थीं. इस पूरी प्रक्रिया को “जौहर” कहा जाता था. राणा सांगा खानवा के युद्ध के पश्चात् सन् 1528 में चल बसे, जिसकी वजह से मेवाड़ और चित्तौड़ का इलाका उनकी विधवा पत्नी रानी कर्णवती के जिम्मे आ गया. राणा सांगा की मौत के बाद गुजरात के बहादुर शाह ने चित्तौड़गढ़ पर कब्जा कर लिया. चारों तरफ़ से युद्ध के साये उन पर मंडरा रहे थे और दूर-दूर तक मदद की उम्मीद नज़र न आने पर महारानी ने 8 मार्च, 1535 को राज्य की और भी महिलाओं के साथ सामूहिक आत्मदाह “जौहर” कर लिया. राजस्थान और चित्तौड़ के आस-पास के इलाकों में ऐसी कई दंतकथाएं आज भी कही-सुनी जाती हैं.



Comments Raju kumr on 23-08-2018

Rajput estreeyo
samuhika Kunda



आप यहाँ पर राजपूत gk, सामूहिक question answers, आत्मदाह general knowledge, राजपूत सामान्य ज्ञान, सामूहिक questions in hindi, आत्मदाह notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Total views 503
Labels: , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment