प्रतिभाशाली बालक का अर्थ

Pratibhashali Balak Ka Arth

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

GkExams on 12-05-2019

विशिष्ट बालकों से अभिप्राय ऐसे बालकों से है जो शारीरिक या मानसिक शीलगुणों में सामान्य बालकों से भिन्न होते हैं। विशिष्ट या असाधरण शब्द का प्रयोग उस शीलगुण या शीलगुण वाले व्यकित के लिए किया जाता हैं,



जो सामान्य व्यकित के शीलगुण से इस सीमा तक विचलित या अलग होते है कि उनके साथियों को उनकी ओर विशेष ध्यान देना पड़ता है, और इससे उनके कार्य प्रभावित होते है।



रेबर के अनुसार विशिष्ट बालक जैसा कि बालमनोविज्ञान में प्रयुक्त होता है, से तात्पर्य अत्यधिक प्रवीण एवं प्रतिभाशाली बालकों के साथ-साथ उन बालकों से भी है जो निम्न बुद्धि या अन्य शिक्षण असमर्थताओं के होते हैं।



स्लेवीन (1991) ने इस प्रकार के बालकों को चार विभिन्न श्रेणियों में विभाजित किया जो कि निम्नलिखित हैं

1. मानसिक असाधरण बालक

2. शारीरिक असाधरण बालक

3. वाणी असाधरण बालक

4. संवेगात्मक असाधरण बालक


GkExams on 12-05-2019

विशिष्ट बालकों से अभिप्राय ऐसे बालकों से है जो शारीरिक या मानसिक शीलगुणों में सामान्य बालकों से भिन्न होते हैं। विशिष्ट या असाधरण शब्द का प्रयोग उस शीलगुण या शीलगुण वाले व्यकित के लिए किया जाता हैं,



जो सामान्य व्यकित के शीलगुण से इस सीमा तक विचलित या अलग होते है कि उनके साथियों को उनकी ओर विशेष ध्यान देना पड़ता है, और इससे उनके कार्य प्रभावित होते है।



रेबर के अनुसार विशिष्ट बालक जैसा कि बालमनोविज्ञान में प्रयुक्त होता है, से तात्पर्य अत्यधिक प्रवीण एवं प्रतिभाशाली बालकों के साथ-साथ उन बालकों से भी है जो निम्न बुद्धि या अन्य शिक्षण असमर्थताओं के होते हैं।



स्लेवीन (1991) ने इस प्रकार के बालकों को चार विभिन्न श्रेणियों में विभाजित किया जो कि निम्नलिखित हैं

1. मानसिक असाधरण बालक

2. शारीरिक असाधरण बालक

3. वाणी असाधरण बालक

4. संवेगात्मक असाधरण बालक



Comments Ntpc exam dae on 28-05-2019

Ntpc exam date



आप यहाँ पर बालक gk, question answers, general knowledge, बालक सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment