चागोस द्वीप समूह विवाद

Chagos Dveep Samuh Vivad

GkExams on 10-12-2018

भारत ने विवादास्पद चागोस द्वीप पर मॉरिशस + के दावे का समर्थन करते हुए कहा है। मॉरिशस के समर्थन में भारत ने कहा कि इलाके को उपनिवेशवाद से निजात दिलाने की प्रक्रिया तब तक अधूरी है, जब तक यह हिस्सा ब्रिटिश नियंत्रण में है। यह द्वीप हिन्द महासागर में ब्रिटेन और अमेरिका का एक अहम सैन्य अड्डा है।

लेटेस्ट कॉमेंट
ब्रिटेन की अभी भी उपनिवेशवादी मानसिकता



मॉरिशस और ब्रिटेन सामरिक महत्व वाले हिन्द महासागर में स्थित इस प्रवाल द्वीप को लेकर राजनयिक और कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय न्यायालय + में इस मुद्दे पर मौखिक सुनवाई के दौरान देश का रुख स्पष्ट करते हुए नीदरलैंड में भारत के राजदूत वेणु राजमणि ने कहा ऐतिहासिक तथ्यों और कानूनी पहलुओं के विश्लेषण से चागोस की संप्रभुता और उसके मॉरिशस के साथ निरंतर रहने की पुष्टि होती है।


बता दें कि 1965 में इस टापू को लेकर इंग्लैंड और अमेरिका के बीच महत्वपूर्ण समझौता हुआ। दरअसल चागोस द्वीप समूह के 1500 लोगों को जबरन किसी और जगह पर बसाने को लेकर यह समझौता हुआ। उसी वक्त अमेरिका ने भी यहां मिलिट्री बेस बनाने के लिए सहमति दी और आसपास के दूसरे टापुओं को वीरान ही छोड़ दिया गया।



Comments

आप यहाँ पर चागोस gk, द्वीप question answers, समूह general knowledge, विवाद सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment