तेरहवीं मेसेज इन हिंदी

13th Message In Hindi

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

Pradeep Chawla on 12-05-2019

शोक संदेश

अत्यंत दुःख के साथ सूचित किया जाता है कि हमारे पूज्य पिताजी श्री चरन सिंहजी का स्वर्गवास दिनाँक 22 जून 2012 को हो गया है. उनकी तेरहवीं दिनाँक 4 जुलाई 2012 दिन बुधवार की होनी निश्चित हुईं है.



सर्वभाषा संस्कृति समन्व समिति के समस्त सदस्यगण आमंत्रित हैं.



स्थल-- श्री सनातन धर्म मंदिर, डी-- ब्लाक गली नम्बर 12 के सामने

भजनपुरा दिल्ली -110053

फोन -9013456949



हवन -----------------------------------------------सुबह 8-00 बजे

ब्रह्मभोज ---------------------------------------- दोपरह 12-00 बजे

रस्म पगड़ी -----------------------------------------सांय 3-00 बजे





शोकाकुल



भगवान सिंह हंस, डोरी लाल हंस, मदन मोहन हंस ( पुत्र ) फोन -9013456949

अमित, योगेश, लोकेश , हेमंत, अभिषेक ( पौत्र )

एवं समस्त हंस परिवार





सो गया दरखत अपनी भुजाओं में ,

खेलकर बड़ा हुआ इन्हीं हवाओं में ,

तौल न सके तराजू से वाट उसे ,

उड़ गया कैसे कब इन्हीं हवाओं में.



कितने लम्बे हाथ थे जनाव उसके ,

कैसे द्रुतगामी घोड़े थे मन के उसके,

तोड़ दीं जंजीर, दीवार पत्थर की,

छोड़ मोह माया उड़ा हवाओं में.



फूलती टहनी खुशबू संवार दीं,

कलियाँ रंग भर भर उभार दीं,

छाया बनेंगी किसी थकी राह में,

रहेंगे हमसफ़र तुम स्वकलाओं में.



Comments विशाल कजौरिया on 12-05-2019

तैरवी नयौता



आप यहाँ पर मेसेज gk, question answers, general knowledge, मेसेज सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment