परिवीक्षा अवधि के नियम

परिवीक्षा Awadhi Ke Niyam

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

GkExams on 12-05-2019

1. 20.1.2006 को/पश्चात राज्य सेवा में सभी नियुक्तियां 2 वर्षीय परिवीक्षाधीन की जाती है व इस अवधि में नियत पारिश्रमिक दिया जाता हैं।

2. राज्य कर्मचारी यदि अपने नाम में परिवर्तन करना चाहता है तो उसे अपने वर्तमान नाम में परिवर्तन करने का एक बन्धपत्र व स्वयम के व्यय पर राजपत्र तथा समाचार पत्र में प्रकाशन को कार्यालयाध्यक्ष के माध्यम से शासकीय स्वीकृति प्राप्त करनी होगी।

3. एक राज्य कर्मचारी एक पद का कार्यभार ग्रहण करते समय उनके साथ देय वेतन भत्तों को उसी दिन से प्राप्त करेगा जिस दिन वह कार्यग्रहण करता हो, मध्यान्ह पश्चात कार्यग्रहण करने पर वेतन/भत्ते अगले दिन से देय होंगे।

4. सक्षम अधिकारी को यह निर्णय लेने में स्वतंत्रता है कि वह त्यागपत्र को तुरंत प्रभाव से स्वीकृत करे अथवा भावी दिनांक से।

5. सामान्यतया सेवानिवृत्ति के इच्छुक कार्मिक से कोई बकाया ना होने का प्रमाणपत्र प्राप्त करके त्यागपत्र स्वीकार किया जाता है।

6. नियुक्ति अधिकारी ही त्यागपत्र स्वीकृति हेतु सक्षम है। अनिच्छुक कार्मिक को रोकना राज्य हित में नही होता अतः सामान्य नियम यह है कि सामान्यतया त्यागपत्र स्वीकार कर लिया जाता है लेकिन यदि कार्मिक को विशेष कार्य दिया हुआ हो, अथवा निलम्बित हो, अथवा बन्धपत्र भरा हुआ हो तो रोका जा सकता है।

7. नियम 23 A के तहत एक अस्थायी सरकारी कर्मचारी को सेवा से त्यागपत्र से पूर्व एक विशेष अवधि का नोटिस देना आवश्यक होता है।

8. राज्य कार्मिक को किसी विशेष पद पर स्वतन्त्रता पूर्वक कार्य सम्भालने से पूर्व यदि प्रशिक्षण प्राप्त करना आवश्यक हो तथा वह कार्मिक प्रशिक्षण अवधि में या प्रशिक्षण समाप्ति के 2 वर्ष पूर्व यदि त्यागपत्र देता है तो प्रशिक्षण हेतु सरकार द्वारा व्यय की गई राशि को सरकार को लौटाने हेतु बाध्य हैं।

9. तीन माह से अधिक पर 6 माह से कम प्रशिक्षण अवधि पर एक वर्ष व 6 माह से अधिक प्रशिक्षण अवधि होने पर 2 वर्ष की राजकीय सेवा करने के लिए बन्धपत्र देय होता है।

10. एक कार्मिक को 5 वर्ष से अधिक का निरन्तर रूप से किसी भी प्रकार का अवकाश देय नहीं होता है।



Comments Sangeeta on 21-07-2019

Probation period me chutiyo me ki gyi training ki Pl milti hai kya ydi karmik ki niyukti 2005 me hai

Vinay on 12-05-2019

Payog doyora parit apirit Kary ayodhyo Ko me ashudhiyo ke antar Ko nivorit kare

Mohansingh waskel on 30-01-2019

Meri niyukti dinak 11/112011 ha meri pariviksha avdhi dinak 11/112013ko samapt ho gai hai muze vetanvradhi kis dinak se milegi

जुगनू सोनी on 22-01-2019

मेरा नियुक्ति 22-2-2016 को हुआ ह और 22-2-2018 को मेरा परिवीक्षा अवधि समाप्त हो गया है तो मुझे 2 साल का इन्क्रेअमेन्ट मिलेगा की नही बताई


Rakesh kumar dhurwey on 17-10-2018

परिवीक्षा अवधि के पश्चात 2 बर्ष की एरियर कैसे निकलेगा पारिभाषित पेन्शन बाला कृपया जानकारी बताएं, धन्यवाद



Labels: , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment