किसी पर्वतीय यात्रा का वर्णन letter

Kisi Parvatiya Yatra Ka Varnnan letter

GkExams on 12-05-2019

15, राजेंद्र नगर,
नई दिल्ली,

दिनांक : 22.06.2018

प्रिय सुबोध,

सप्रेम नमस्ते ।

आशा है तुम सकुशल एवं आनंद से होगे । मैं भी यहाँ अपने परिवारजनों सहित कुशलपूर्वक हूँ । मैं दो दिन पूर्व ही नैनीताल का भ्रमण कर वापस लौटा हूँ ।

नैनीताल एक पर्वतीय स्थल है । पर्यटन की दृष्टि से यह भारत के महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों में से एक है । चारों ओर हरे-भरे पहाड़ों व सुंदर प्राकृतिक दृश्यों से घिरा यह स्थल सभी का मन मोह लेता है । ग्रीष्म ऋतु में यहाँ की ठंडी हवाएँ सभी को ताजगी पहुँचाती हैं । यहाँ की झील में नौका विहार का आनंद ही कुछ और है ।

पहाड़ी मार्ग के किनारे गहरी सुंदर घाटियों का दृश्य अद्‌भुत लगता है । रास्ते में पहाड़ों से निकलकर बहते झरनों का दृश्य तो इतना मनमोहक लगता है कि लोग मंत्रमुग्ध हो जाते हैं । ऊँचाई पर एक जगह बादल हमारी बस की खिड़कियों से अंदर प्रवेश करने लगे । उस समय सचमुच ऐसा लग रहा था जैसे हम स्वर्ग का सुख प्राप्त कर रहे हैं ।

तुम्हारी छुट्टियाँ कैसी बीतीं इसका उल्लेख अपने पत्र में अवश्य करना । अपने माता-पिता को मेरा सादर प्रणाम कहना ।

सप्रेम,

तुम्हारा मित्र
अल्बर्ट



Comments Ank on 29-12-2021

किसी पर्वतीय स्थल के प्राकृतिक सौंदर्य का वणन करते हुए एक अनुच्छेद

Girish on 07-09-2021

Mitra ko parvtiy sthal or bhrmand krne hetu Patra likhe

Himanshi yadav on 08-08-2021

I like yoir latter

Himanshi yadav on 08-08-2021

I like your latter thanks for you

Mohit on 08-08-2021

Apne mitr ko bhraman hetu bulbane k liye patr likho

Deepesh on 16-11-2020

Essay on human and science in hindi


samiksha on 06-07-2020

Mujhe class 8 ch 4 ka summary d sakta hai

Junagadh ka varanan karte huye ptra likhe on 21-11-2019

Junagadh

पंडत on 27-09-2019

Winner winner Chicken Dinner जय Free Fire Garena

Ginny on 22-06-2019

Very bad

Ghm on 15-06-2019

Poems of class 3rd

Rishikesh on 26-05-2019

Write summary of Ham panchhi unmukt gagan me


अंतरा on 12-05-2019

गृषमा अवकाश में आपको विद्यालय से पवतारोहण के लिए ले जाया गया उसका वणरन करते हुए मित्र को पत्र लिखिए

janvi on 12-05-2019

Kisi parvatiye sthan ka varnan karte hue mittra ko patra

Poornima on 12-05-2019

Apni Kisi parvatiya yatra ka varnan kare

Poornima on 12-05-2019

Apni Kisi parvatiya yatra ka varnan kare letter

बन्दना on 12-05-2019

शहर की भाग दौड़ भरी जीवनशैली से थके मानव जीवन को पर्वतीय स्थलों की शांति में विश्राम प्राप्त होता है। किंतु मानवीय महत्वकांशा इसमें बिघ्न उत्पन किया है। उपर्युक्त विचार को ध्यान में रखते हुए इस विषय पर अपने विचार प्रस्तुत कीजिये


सपाना शर्मा on 12-05-2019

किसी पवरतीय स्थान का वर्ण करते हुए पत्र


Iudi on 10-04-2019

Ixh7ysb

Winner winner chicken dinner on 06-10-2018

Winner winner chicken dinner

vivek ranakoti on 17-09-2018

hlo



Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment