शिक्षा मनोविज्ञान की प्रकृति

Shiksha Psychology Ki Prakriti

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

GkExams on 12-05-2019

शैक्षिक मनोविज्ञान (Educational psychology), मनोविज्ञान की वह शाखा है जिसमें इस बात का अध्ययन किया जाता है कि मानव शैक्षिक वातावरण में सीखता कैसे है तथा शैक्षणिक क्रियाकलाप अधिक प्रभावी कैसे बनाये जा सकते हैं। शिक्षा मनोविज्ञान दो शब्दों के योग से बना है - ‘शिक्षा’ और ‘मनोविज्ञान’। अतः इसका शाब्दिक अर्थ है - शिक्षा संबंधी मनोविज्ञान। दूसरे शब्दों में, यह मनोविज्ञान का व्यावहारिक रूप है और शिक्षा की प्रक्रिया में मानव व्यवहार का अध्ययन करने वाला विज्ञान है। शिक्षा के सभी पहलुओं जैसे शिक्षा के उद्देश्यों, शिक्षण विधि, पाठ्यक्रम, मूल्यांकन, अनुशासन आदि को मनोविज्ञान ने प्रभावित किया है।[1] बिना मनोविज्ञान की सहायता के शिक्षा प्रक्रिया सुचारू रूप से नहीं चल सकती।



शिक्षा मनोविज्ञान से तात्पर्य शिक्षण एवं सीखने की प्रक्रिया को सुधारने के लिए मनोवैज्ञानिक सिद्धान्तों का प्रयोग करने से है। शिक्षा मनोविज्ञान शैक्षिक परिस्थितियों में व्यक्ति के व्यवहार का अध्ययन करता है।



इस प्रकार शिक्षा मनोविज्ञान में व्यक्ति के व्यवहार, मानसिक प्रक्रियाओं एवं अनुभवों का अध्ययन शैक्षिक परिस्थितियों में किया जाता है। शिक्षा मनोविज्ञान मनोविज्ञान की वह शाखा है जिसका ध्येय शिक्षण की प्रभावशाली तकनीकों को विकसित करना तथा अधिगमकर्ता की योग्यताओं एवं अभिरूचियों का आंकलन करना है। यह व्यवहारिक मनोविज्ञान की शाखा है जो शिक्षण एवं सीखने की प्रक्रिया को सुधारने में प्रयासरत है।



Comments Guddiya on 04-10-2019

Siksha mnovigyan ki prkiti

Shobhna on 12-05-2019

Shiksha manovigyan ki prakriti kya hai

कमल on 12-05-2019

शिक्षा मनोविज्ञान की प्रकृति की व्याख्या कीजिये

Narendra on 12-05-2019

Manovigyan ki perkerti

R.pandit on 25-01-2019

Shikha manovigyan ki prakriti kaya hai?

Brijlal on 08-11-2018

Sabalgarh


चतुराराम राठौड़ on 03-11-2018

शिक्षा मनोविज्ञान की प्रकृति के अनुसार मानकीय विज्ञान है या सामाजिक विज्ञान

Rupesh on 27-10-2018

Manovigyan kya hai



Labels: , , , , विज्ञान
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment