भारत का महान्यायवादी कौन है

Bharat Ka Mahanyaywadi Kaun Hai

GkExams on 25-12-2018

  • 3 जुलाई, 2017 को वरिष्ठ अधिवक्ता के.के. वेणुगोपाल ने भारत के नए अटार्नी जनरल (महान्यायवादी) के रूप में पदभार ग्रहण किया।
  • वह भारत के 15वें अटार्नी जनरल हैं।
  • इस पद पर उन्होंने मुकुल रोहतगी का स्थान लिया।
  • इससे पूर्व वह मोरारजी देसाई की सरकार में (वर्ष 1977-79) भारत के अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल रह चुके हैं।
  • उल्लेखनीय है कि अटार्नी जनरल भारत सरकार का प्रथम विधि अधिकारी होता है। वह न्यायालयों में भारत सरकार का पक्ष रखता है।
  • भारतीय संविधान के अनुच्छेद 76(1) के अनुसार अटार्नी जनरल की नियुक्ति राष्ट्रपति द्वारा की जाएगी।
  • वह राष्ट्रपति के प्रसादपर्यन्त अपना पद धारण करता है।
  • अटार्नी जनरल को संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही में भाग लेने एवं बोलने का अधिकार है, लेकिन मत देने का अधिकार नहीं है।
  • एम.सी.सीतलवाड़ भारत के प्रथम अटार्नी जनरल थे।




Comments Bhupendra Singh on 12-05-2019

Ok



आप यहाँ पर महान्यायवादी gk, question answers, general knowledge, महान्यायवादी सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment