पक्षी विहार इन इंडिया

Pakshi Vihar In India

Gk Exams at  2020-10-15

GkExams on 10-12-2018

जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क, उत्तराखंड:
यह देश का सबसे पुराना राष्ट्रीय उद्यान माना जाता है। यह जगह दुर्लभ पक्षियों को देखने का शौक रखने वालों के ल‍िए स्वर्ग है। घने जंगलों, घास और पहाड़ी वनस्पतियों के बीच सर्दियों के महीनों के प्रवासी पक्षियों का आगमन होता है। जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क के अंदर पक्षियों को देखने के लिए सोलुना रिजॉर्ट और कलगढ़ बांध जैसी जगहें बेहद शानदार है। यहां पर आने वाले प्रवासी पक्ष‍ियों में मैगपाई-रोबिन, बुलबुल जैसे पक्ष‍ियों की प्रजात‍ि शाम‍िल है।



राजस्‍थान के भरतपुर में बना केवलादेव घाना राष्ट्रीय उद्यान पक्षी स्‍वर्ग माना जाता है। यह बर्ड वॉचर्स की फेव‍रेट जगहों में से एक है। भरतपुर पक्षी अभ्यारण न सिर्फ देशी बल्कि विदेशी पर्यटकों को भी अपनी ओर आकर्षित करता है। यहां हर साल सर्दियों के मौसम में अक्टूबर से फरवरी के महीनों में दुर्लभ और लुप्तप्राय पक्षी बड़ी संख्‍या में आते हैं। क्रेन, पेलिकन, गुई, बतख, ईगल्स जैसे और कई दूसरी प्रजात‍ियों के पक्षी यहां पर देखने को म‍िलते हैं।



चिल्का झील पक्षी अभयारण्य, ओडिशा


ओडिशा के पास चिल्का झील भी बर्ड वॉचर्स के ल‍िए अच्‍छी जगह है। प‍िअर-आकार में बनी चिल्का झील करीब 1,100 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैली है। सर्दी के मौसम में प्रवासी पक्षियों के लिए सबसे बड़ा मैदान माना है। यहां पर समुद्री ईगल्स, ग्रेलेग गुइज और बैंगनी मूरिन जैसे अनोखी प्रजातियों के पक्षि‍यों का जमावड़ा रहता है। इस झील में कई छोटे द्वीप हैं, जिनमें अक्टूबर से मार्च तक खूबसूरत सुंदर पंखों वाले मेहमान रहते हैं।



सुल्तानपुर पक्षी अभ्यारण, हरि‍याणा


हर‍ियाणा का ये सुल्तानपुर पक्षी अभ्यारण भी काफी फेमस हैं। यह जगह भी पक्षी प्रेमियों के लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं है। यह जगह निवासी और प्रवासी दोनों पक्षियों का घर माना जाता है। यहां पर भी पक्षी देखने के ल‍िए सर्दी का समय काफी अच्‍छा माना जाता है। यहां सबसे ज्‍यादा पसंद क‍िए जाने वाले उत्तरी पिंटेल, ग्रेटर फ्लेमिंगो, कॉमन टील और साइबेरियन क्रेन शाम‍िल हैं।



सलीम अली पक्षी अभ्यारण, गोवा


गोवा का यह सलीम अली पक्षी अभ्यारण भी काफी फेमस है। यह मंडोवी नदी के पास स्थित है। यह भारत के सबसे अच्छे पक्षी अभयारण्यों में से एक है। यहां गौरैया, मोर, तोते, हवासील जैसे कई तरह के खूबसूरत पक्षियों को देखा जा सकता है। यह देश के लोकप्रिय स्‍थानों में एक है। यहां का शांत वातावरण और चिड़ियों की चहचहाहट पक्षी प्रेम‍ियों को बहुत लुभाती है।



नल सरोवर पक्षी अभ्‍यारण, गुजरात


गुजरात के अहमदाबाद शहर में बना यह नल सरोवर पक्षी अभ्‍यारण भी देश के शानदार जगहों में एक है। यहां पर हर साल सर्दियों के मौसम में खूबसूरत पक्षियों की भीड़ रहती है। नवंबर से फरवरी तक का समय यहां आने के ल‍िए एक बेहतरीन समय है। अभयारण्य भारतीय उल्लू के लिए तो प्रस‍िद्ध है। इसके अलावा यहां पर भूरी और सफेद बेडिग बर्ड, प्‍लोवर्स, ब्‍लैक टेल्‍ड गोडविट, स्‍टीन्‍ट और सैंडपाइपर्स फ्लॉक आदि पाई जाती हैं।



कुमारकोम पक्षी अभ्यारण, केरल


केरल की वेम्बानद झील के तट पर कुमारकोम पक्षी अभ्‍यारण पक्षी प्रेम‍ियों के लि‍ए यह एक बेहतरीन जगह माना जाता है। यहां कोयल, उल्लू, एगेट, बोरन, जलपक्षी, ब्राह्मिनी, चील, तोता, बगला, जलकाग, चैती, लवा, इग्रेट, साइबेरियन क्रेन जैसे और कई पक्ष‍ियों को देखा जा सकता है। यहां पर जाने का जून से अगस्त के बीच, और नवंबर से फरवरी के बीच अच्‍छा समय है।



ईगलिनस्ट अभयारण्य, अरुणाचल प्रदेश


अरुणाचल प्रदेश में स्‍थ‍ित‍ ईगलिनस्ट अभयारण्य भी बेहद खूबसूरत है। जहां सैंकड़ों प्रवासी पक्षियों के घर हैं जो यहां रहते हैं। बर्ड लाइफ इंटरनेशनल ने ईगलनेट को एक 'इंपार्टेंट बर्ड एरिया' के रूप में ड‍िक्‍लेयर किया है। नवंबर और मई के बीच में यहां पर जाने में प्रवासी पक्ष‍ी देखने को म‍िलते हैं। यहां पर बने फेमस लामा कैंप में बेहद खूबसूरत और अनोखे पक्षी देखे जा सकते हैं।



लावा और नेओरा घाटी राष्ट्रीय उद्यान, पश्चिम बंगाल


पश्चिम बंगाल में लावा और नेओरा घाटी भी पक्षी नजर रखने वालों के लिए एक शानदार जगह है। लावा में अल्गरहा रोड को भारत की सबसे अच्‍छी "बर्डिंग मील" माना जाता है। लावा और नेओरा घाटी में कई दुर्लभ प्रजातियों का घर है। यहां पर सच्चर ट्रागॉन, रूफस-ग्रोट्रेटेडट्रिज, व्हाइट-टेल्ड रॉबिन, और रस्टी-बेलिड शॉर्टविंग जैसे पक्षी देखने को म‍िलते हैं। यहा घाटी मानसून के मौसम में तीन महीने तक बंद रहती हैं।



थिटेकड़ पक्षी अभयारण्य, केरल


केरल का ये थिटेकड़ पक्षी अभयारण्य भी खूबसूरत जगहों में से एक हैं। प्रसिद्ध पक्षी विज्ञानी सलीम अली ने इसे "प्रायद्वीपीय भारत पर सबसे अमीर पक्षी निवास" कहा है। केरल का यह अभयारण्य विभिन्न प्रकार के कुक्कुओं के लिए जाना जाता है। इसके एक भाग को 'कोक्यू स्वर्ग' के नाम से जाना जाता है। यहां पर बड़ी संख्‍या में दुन‍िया भर से बर्ड वॉचर्स आते हैं।





Comments What we say to pakshi vihar in english on 12-05-2019

Pta ni



आप यहाँ पर विहार gk, इंडिया question answers, general knowledge, विहार सामान्य ज्ञान, इंडिया questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment