रावतभाटा इतिहास

RavatBhata Itihas

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

GkExams on 10-12-2018

रावतभाटा परमाणु ऊर्जा संयंत्र (अंग्रेज़ी: Rawatbhata Nuclear Power Plant) का भारत के परमाणु ऊर्जा कार्यक्रमों में महत्त्वपूर्ण स्थान है। राजस्थान स्थित रावतभाटा, कोटा से करीब 65 किलोमीटर दूर है। यह अपने आप में कई मामलों में प्रथम स्थान रखता है। यह प्रथम दाबित भारी जल संयंत्र है। अभी तक यह पहला बेहद अत्याधुनिक तकनीक एवं प्रौद्योगिकी से बनाया गया दाबित भारी जल संयंत्र है। परमाणु ऊर्जा के निर्बाद्ध उत्पादन में रावतभाटा परमाणु ऊर्जा संयंत्र दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादन केंद्र बन गया है।

स्थापना

जब भी परमाणु ऊर्जा से उत्पन्न होने वाली बिजली की बात की जाती है तो राजस्थान का नाम पहले सामने आता है। दरअसल, राजस्थान का रावतभाटा परमाणु ऊर्जा संयंत्र देश का दूसरा परमाणु विद्युत संयंत्र है। इसकी स्थापना चार दशक पहले की गई थी। यह अपने बिजली उत्पादन क्षमता के लिए जाना जाता है। रावतभाटा परमाणु ऊर्जा संयंत्र 1240 मेगावाट की क्षमता वाला स्टेशन है। पिछले 10 साल में सबसे कम 2010 में बिजली का उत्पादन (1202 लाख यूनिट) हुआ। 2013 में सबसे ज्यादा बिजली नवंबर में 767 लाख यूनिट बनाई गई।


बिजली उत्पादन के क्षेत्र में भारत ने बड़ी सफलताएं हासिल की हैं। इसमें विज्ञान का अहम योगदान है। रावतभाटा परमाणु ऊर्जा संयंत्र एक ऐसे परमाणु ऊर्जा केंद्र के रूप में स्थापित है, जिसने 2013 में रिकॉर्ड बिजली का उत्पादन किया था। भारत में बिजली उत्पादन के क्षेत्र में परमाणु ऊर्जा का अहम योगदान है। विकासशील देश होने के कारण भारत की सम्पूर्ण विद्युत आवश्यकताओं का एक बड़ा भाग गैर पारम्परिक स्रोतों से पूरा किया जाता है। इसका कारण है, यहां की जनसंख्या। इस कारण पारम्परिक स्रोतों द्वारा बढ़ती हुई आवश्यकताओं को पूरा नहीं किया जा सकता। ऐसे में हमारी निर्भरता थर्मल पावर स्टेशन से उत्पन्न होने वाली बिजली पर बढ़ जाती है।





Comments

आप यहाँ पर रावतभाटा gk, question answers, general knowledge, रावतभाटा सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment