रूठी रानी का महल उदयपुर

Roothi Rani Ka Mahal Udaipur

Gk Exams at  2020-10-15

GkExams on 12-05-2019

रूठी रानी का महल -जयसमंद (उदयपुर).


Comments S.kumar on 26-10-2020

क्या रानी उमादे जैसी कोई लड़की हो तो बता सकते हो ?

Tilok on 11-10-2020

रूठी रानी का महल निर्माण किसने करवाया

8700225843 on 23-09-2020

Tuti rani ka mahal kab aur Kisne banvaya

Sunil sharma on 28-04-2020

रुठी रानी का महल मांडल गढ़ मे किसने बनवाया था?

Durgesh Dangi on 25-02-2020

जोधपुर। राजस्थान के राजवंशों के गौरवशाली इतिहास के साथ इनके किस्से भी बड़े रोचक हैं। बात राजा मालदेव की शादी के समय की है। रानी उमादेसुहाग की सेज पर राजा का इंतजार करती रही और वो पहुंचे ही नहीं। रानी ने राजा को बुला लाने के लिए दासी को भेजा। राजा ने दासी को रानी समझ उसे अपने पास बैठा लिया, ये देख रानी गुस्सा हो गई और राजा से जिंदगी भर बात नहीं की। जब राजा रानी को मनाने पहुंचे तो उमादे ने कहा कि अब आप मेरे लायक नहीं रहे। जानें क्या है पूरी कहानी... Dainikbhaskar.com जानों राजस्थान सीरीज के तहत यहां के राज परिवारों की कही अनकही कहानियां बता रहा है। इसी कड़ी में आज पढ़िए मारवाड़ के राजा राव मालदेव की एक रानी की कहानी... एक गलती पड़ी भारी पांच सदी पूर्व मारवाड़ में राजा राव मालदेव थे।इनकी एक गलती के कारण उनका नई रानी उनसे रूठ गई थीं। रानी ने भी ऐसा प्रण लिया कि जीवनभर अपनी बात पर कायम रही और इतिहास में रूठीं रानी के नाम से प्रसिद्ध हो गई। जीवनभर अपने पति से नहीं बोलने वाली रूठी रानी ने मरने के बाद अपने पति का साथ दिया और उसके साथ ही सती हो गई। कुछ ऐसी है पूरी कहानी - पूरे राजपूताना में आज तक राव मालदेव की टक्कर का अन्य कोई राजपूत शासक नहीं हुआ। जीवन में 52 युद्ध लड़ने वाले इस शूरवीर की शादी 24 वर्ष की आयु में वर्ष 1535 में जैसलमेर की राजकुमारी उमादे के साथ हुआ। - उमादे अपनी सुंदरता व चतुरता के लिए प्रसिद्ध थी। राठौड़ राव मालदेव की बरात शाही लवाजमे के साथ जैसलमेर पहुंची। राजकुमारी उमादे राव मालदेव जैसा शूरवीर और महाप्रतापी राजा को पति के रूप में पाकर बहुत खुश थी। - शादी होने के बाद राव मालदेव अपने सरदारों व संबंधियों के साथ महफिल में बैठ गए और रानी उमादे सुहाग की सेज पर उनकी राह देखती-देखती थक गई। - इस पर रानी ने दहेज में मिली अपनी खास दासी भारमली को राजा को बुलाने भेजा। दासी भारमली राव मालदेव को बुलाने गई। खूबसूरत दासी को नशे में चूर राव ने रानी समझ कर अपने पास बैठा लिया। - काफी वक्त गुजरने के बाद भी भारमली के न आने पर रानी जब राव के कक्ष में गई तो वहां भारमली को उनके आगोश में देखा। इससे नाराज हो उमादे ने राव के स्वागत के लिए तैयार किया आरती का थाल वहीं यह कह उलट दिया कि अब राव मेरे लायक नहीं रहे। - सुबह राव मालदेव नशा उतरा तब वे बहुत शर्मिंदा हुए और रानी के पास गए, लेकिन तब तक वह रानी उमादे रूठ चुकी थी। कभी नहीं मिली राजा से, लेकिन उनके साथ हो गई सती - ये रानी आजीवन राव मालदेव से रूठीं ही रही और इतिहास में रूठीं रानी के नाम से मशहूर हुई। इस रानी के लिए किले की तलहटी में एक अलग महल भी बनवाया गया, लेकिन वह वहां भी कुछ दिन रह कर वापस लौट गई। - जब शेरशाह सूरी ने मारवाड़ पर आक्रमण किया तो रानी से बहुत प्रेम करने वाले राव मालदेव ने युद्ध में प्रस्थान करने से पूर्व एक बार उनसे मिलने का अनुरोध किया। एक बार मिलने को तैयार होने के बाद रानी उमादे ने ऐन वक्त पर मिलने से इनकार कर दिया। - इतिहासकार यह भी मानते है कि रूठी रानी के मिलने से इनकार करने का राव मालदेव पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ा और वह अपने जीवन में पहली बार कोई युद्ध हार गया। - वर्ष 1562 में राव मालदेव के निधन का समाचार मिलने पर रानी उमादे को अपनी भूल का अहसास हुआ और उन्हें बहुत कष्ट पहुंचा। राव मालदेव से बहुत प्रेम करने वाली रानी उमादे प्रायश्चित के रूप में उनकी पगड़ी के साथ स्वयं को अग्नि को सौंप सती हो गई।


Punam chand on 17-02-2020

Rajasthan me ruthi rani ke kitne mahal hai


Vishal Sharma on 16-01-2020

रूठी रानी का महल किसने बनाया था

राज़ on 06-01-2020

रूठी रानी का महल किसने बनबाया

Roti rani ka mahal konse Abhyaran me h on 30-11-2019

Roti rani ka mahal konse Abhyaran me h

vinod gadhawal on 24-11-2019

पिछोला झील के किनारे किस रूठी रानी का महल है

रूठी रानी का महल अजमेर में किसने बनवाया था on 12-11-2019

रूठी रानी का महल अजमेर में किसने बनवाया था

Ruthi ke pati ka name on 10-11-2019

Ruthi rani ka mahal kha h


नयन गुर्जर on 12-05-2019

रूठी रानी का महल कहा पर है

Ashok Kumar on 12-05-2019

रूठी रानी का दुसरा महल कहा है व कोन थी

Rani Ki Chhatri ki sheari question and answers for on 12-05-2019

Who was the build of Rani Ki Chhatri

Hemraj meena on 29-09-2018

रूठी रानी का महल तारागढ़(अजमेर) रानी उमादे मालदेव की रानी।
दूसरा महल माण्डलगर्ड(भीलवाड़ा)
तीसरा महल जयसमन्द(उदयपुर)


Sonu on 03-09-2018

Visthar se bathao ruti rani ke mahal ke bare me, ek ajmer me bhi h

Swati Swati on 15-08-2018

Ruthi rani ka Mahal mandalgar me he ?


RAMKESH CHHAPOLA on 10-08-2018

रूठी रानी का महल कब, किसने बनवाया



Labels: , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment