India History- Kisne sherShahKaleen Gram Prashasan Ke Sandarbh Me Kahaa , Ek jaraksheenn Mrityumukh Me panhuchane Hee Wali vriddha Apne sir Par swarnnabhushnon Se bhara Tokra Rakhe Yatra Par nikal pade , Tab Bhi Kisi chor Ya lutere Ki himmat Nahin Hui Ki Wah budhiya Ke Paas fatak Bhi jaye Kyonki Unhe Maloom Hain Ki Iske Liye shershah Kitna Bada dand de Sakta Hai -

Sponsored Links
Q.31309: किसने शेरशाहकालीन ग्राम प्रशासन के संदर्भ में कहा , एक जराक्षीण मृत्युमुख में पंहुचने ही वाली वृद्धा अपने सिर पर स्वर्णाभूषणों से भरा टोकरा रखे यात्रा पर निकल पड़े , तब भी किसी चोर या लुटेरे की हिम्मत नहीं हुई कि वह बुढि़या के पास फटक भी जाए क्योंकि उन्हें मालूम हैं कि इसके लिए शेरशाह कितना बड़ा दण्ड दे सकता है -
A.
B.
C.
D.
Previous Next
Sponsored Links

किसने शेरशाहकालीन ग्राम प्रशासन के संदर्भ में कहा , एक जराक्षीण मृत्युमुख में पंहुचने ही वाली वृद्धा अपने सिर पर स्वर्णाभूषणों से भरा टोकरा रखे यात्रा पर निकल पड़े , तब भी किसी चोर या लुटेरे की हिम्मत नहीं हुई कि वह बुढि़या के पास फटक भी जाए क्योंकि उन्हें मालूम हैं कि इसके लिए शेरशाह कितना बड़ा दण्ड दे सकता है - India History in hindi,   Moreland question answers in hindi pdf  Parmatma Sharann questions in hindi, Know About Abbas Khan sarwani India History online test India History notes in hindi quiz book    Ke . R . Kaanoonago

पढने हेतु अध्ययन सामग्री




MORE MOCK TEST CATEGORIES