Rajasthan GK- farishta Ka Yah Kathan Hai Ki - " " Bhagya Ki gend Athvaa shatranj Ke BaadShah Ki Bhanti Wah idhar - udhar Mara - Mara fira Jaise Samudra Ke Kinare kankad dhakke khate firte Hai . " " Kis mugal Shashak Ke Bare Me Hai ?

Sponsored Links
Q.24705: फरिश्ता का यह कथन है कि - " " भाग्य की गेंद अथवा शतरंज के बादशाह की भांति वह इधर - उधर मारा - मारा फिरा जैसे समुद्र के किनारे कंकड़ धक्के खाते फिरते है . " " किस मुगल शासक के बारे में है ?
A.
B.
C.
D.
Sponsored Links

फरिश्ता का यह कथन है कि - " " भाग्य की गेंद अथवा शतरंज के बादशाह की भांति वह इधर - उधर मारा - मारा फिरा जैसे समुद्र के किनारे कंकड़ धक्के खाते फिरते है . " " किस मुगल शासक के बारे में है ? Rajasthan GK in hindi,  humayun question answers in hindi pdf  Akbar questions in hindi, Know About babar Rajasthan GK online test Rajasthan GK notes in hindi quiz book    AuRangjeb

gk question bank gk mock tests gk ebooks in hindi pdf current gk news