Rajasthan GK- farishta Ka Yah Kathan Hai Ki - " " Bhagya Ki gend Athvaa shatranj Ke BaadShah Ki Bhanti Wah idhar - udhar Mara - Mara fira Jaise Samudra Ke Kinare kankad dhakke khate firte Hai . " " Kis mugal Shashak Ke Bare Me Hai ?

Sponsored Links
Q.24705: फरिश्ता का यह कथन है कि - " " भाग्य की गेंद अथवा शतरंज के बादशाह की भांति वह इधर - उधर मारा - मारा फिरा जैसे समुद्र के किनारे कंकड़ धक्के खाते फिरते है . " " किस मुगल शासक के बारे में है ?
A.
B.
C.
D.
Sponsored Links

फरिश्ता का यह कथन है कि - " " भाग्य की गेंद अथवा शतरंज के बादशाह की भांति वह इधर - उधर मारा - मारा फिरा जैसे समुद्र के किनारे कंकड़ धक्के खाते फिरते है . " " किस मुगल शासक के बारे में है ? Rajasthan GK in hindi,   humayun question answers in hindi pdf  Akbar questions in hindi, Know About babar Rajasthan GK online test Rajasthan GK notes in hindi quiz book    AuRangjeb